सद्गुरु प्रीति : सायली विधा

Photo by Casey Horner on Unsplash

प्रेम
मगन मन
मंत्र मनन लगन
निराकार निरंजन
जगतारन

भक्ति
परमानंद प्राप्ति
सद्गुरु संग प्रीति
मोहे लागी
अनुरागी

सद्ज्ञान
नित्य आवाहन
मुक्त करो भवबंधन
सद्गुरु शरण
नवसृजन

अनुग्रह
अपार अनंत
अखिल अखण्ड सुरेश्वर
सदाशिव नटेश्वर
जगदीश्वर

वरवदना
सत्य सनातन
शुभ गुण सदना
शुद्ध चेतना
अन्तर्गहना

शेयर करें
About मेधा जोशी 4 Articles
नामः श्रीमती मेधा जोशी शैक्षणिक योग्यता- एम.एस. सी.(भौतिक शास्त्र) कम्प्यूटर-पी.जी.डी.सी.ए. वर्तमान में बैंगलोर से संगीत विशारद कर रही हूं। संस्कृति भारती से कोविदः संस्कृत मे अध्ययन कर रही हूं। साथ ही साथ कविता, लेख, सृजनात्मक क्षेत्र में अत्यंत रुचि रही हैं, साहित्यिक विधा मे प्रयास रत हूँ। वर्तमान में बालकेन्द्र हल्सुरू विभाग , बैंगलुरु शिक्षिका के रूप में कार्यरत हूं। समस्त सम्माननीय साहित्य विधा के श्रेष्ठ ज्ञाताओ को भावभरा नमन।
0 0 votes
लेख की रेटिंग
guest
0 टिप्पणियां
Inline Feedbacks
View all comments