माई नर्मदा

जय नर्मदा माई

शीर्षक : जय नर्मदा माई

हो सदा तिहारी जय जय जयकार
मैकल सुता तुम कलकल बहती धार
माई नर्मदा

शिवसुता तुम देव ऋषिमुनि गण
सब घाटों पर तिहारे करते वास
माई नर्मदा

अमरकंटक जन्मस्थली पुण्यभूमि हर धाम
हर कंकड़ तेरा पूजा जाता अजर अमर वरदान
माई नर्मदा

सकल वसुधा सींचती, हरती जन जन पीर
तट पर तिहारे साधु संतों का डेरा
जन्म जन्म के हरती पाप संताप
माई नर्मदा

तनमन से सब करते तेरी पूजा
पूरन करती सब मनकामना
माई नर्मदा

दूध धारा बन माँ सा कराती अमृत पान
करती अपने पथ में आये सब जन जीवन खुशहाल
माई नर्मदा

करूँ विनती सदा रखना हरा भरा संसार
माई नर्मदा

रखना अपने भक्तों की लाज
माई नर्मदा

हम सब तेरे बालक है नादान
माई नर्मदा

जो भी आये शरण तिहारी
रखना सबकी लाज
माई नर्मदा

हो सदा तिहारी
जय जय जयकार

जय नर्मदा माई

Image by Siddharth Kashyap from Pixabay

और कवितायेँ पढें : शब्दबोध काव्यांजलि

शेयर करें
About प्रवीणा पगारे 6 Articles
श्रीमती प्रवीण पगारे शाजापुर
0 0 votes
लेख की रेटिंग
guest
0 टिप्पणियां
Inline Feedbacks
View all comments