सूक्ष्म कथाएं – राजा, निंजा

दयालु राजा

एक राजा था। उसका नाम राजा हेनरी था। उसका बहुत विशाल राज्य था।तभी दूसरे राज्य के राजा ने राजा हेनरी के राज्य पर हमला कर दिया। और राजा युद्ध मे हार गए।राजा कुछ सैनिकों के साथ दूर राज्य मे रहने लगे।उस राज्य मे एक बड़ी नदी थी। कुछ समय पश्चात् उस नदी में बढ आ गई। सभी अपनी जान बचाने लगे।राजा के सैनिक नाव में बैठकर जाने लगे।तभी एक बूढी अम्मा डूब रही थी। राजा तुरन्त नदी में कूदकर उस बूढ़ी अम्मा को स्विमिंग करते हुए सैनिकों की नाव मे बैठा दिया। और खुद स्विमिंग कर के किनारे पर पहुंचे। इस प्रकार राजा ने अपनी व दूसरो की जान बचाई। सभी ने राजा को तारीफ की।

निन्जा बॉय

एक बार की बात है एक लड़का जिसका नाम निंजा था। वहीं शहर में एक खतरनाक आदमी जिसका नाम कामक्षा था। निंजा की एक बहन मिनिको थी जिसे कामक्षा ने पकड़ लिया मिनिको जोर से चिल्लाने लगी बचाओ बचाओ तभी कमाक्षा हसने लगा और बोला तुम्हें कोई नहीं बचाने आएगा तभी जोर से आवाज आई जो कि निंजा की थी। कामक्षा और निंजा मै युद्ध होने लगा। निंजा ने अपना शस्त्र फेका जिसका नाम सुपर नाएफ बिन फेका पर कामक्षा बच गया। फिर निंजा बॉय ने आग के गोले फेके तभी कामक्षा जल गया और मिनिको उसके जाल से बैच गई। वहीं अपने भाई के गले लग गई और दोनों सकुशल अपने घर आ गए।

Photo by Stillness InMotion on Unsplash

शेयर करें
About कार्तिक कानूनगो 1 Article
कार्तिक कानूनगो १० वर्षीय, कक्षा ५
0 0 votes
लेख की रेटिंग
guest
0 टिप्पणियां
Inline Feedbacks
View all comments